शब्द धारा (19) सपने (WORD STREAM___Dreams)

    शब्द धारा  (19)  सपने *******************  दुनिया  में हक़ीक़त के उस पार,  एक अलहदा  वज़ूद है अपना , दिखाई देने की इंतिहा होने पर , बंद आँखे  दिखाती है सपना।   सपने  रंग -बिरंगे, दिखते-दिखते   , अक्सर  बे -नूर,बेरंग  हो...